चुदाई का सिलसिला

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit psychology-21.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: चुदाई का सिलसिला

Unread post by rajaarkey » 15 Dec 2014 04:21

चुदाई का सिलसिला पार्ट -16

दोस्तो मैं यानी आपका दोस्त राज शर्मा चुदाई का सिलसिला पार्ट -16 लेकर हाजिर हूँ

गतान्क से आगे.......

पायल अओर पूजा एक साथ बोल उठी....नही भाभी हुमारी बूच्छेड़ानी पर भी इसका लंड ठोकर मार रहा था......बड़ी मुस्किल से संभाला था.....बस हम ही जानते है....वो तो बाद मैं जब मज़ा चुदाई का सिलसिला पार्ट -16

आने लगा....तब जाकर कहीं उस ठोकर को बर्दास्त कर पाए थे......

भाभी...कोई बात नही शास....तुम थोड़ी देर रुक जाओ....तुम्हे दूध पीना था ना....अब थोड़ी देर जी भरकर दूध पी लो......उउउउईईएस्स्स्सीईईईआआअह्ह्ह्ह्ह्ह....भाबी ने कप्कपाती आवाज़ मैं कहा......भाभी अपने साँसे नॉर्मल करने की कोशिस कर रही थी......पर दर्द अभी भी...उनकी बर्दास्त से बाहर था....अओर उनकी सिसकारिया लगातार जारी थी....अपने होंठ अओर हाथों की मुठ्ठिया बंद कर वो दर्द पर काबू करने का परियास कर रही थी.....मन ही मन भाभी सोच रही थी इतना दर्द तो उसे पहली बार भी नही हुवा था....इस शास का लंड कुछ जीयादा ही बड़ा अओर भारी है......अओर अपने आसू रोकने की कोशिस करती रही.......

उधर शास अपनी मस्ती मैं भाभी की चुचिय्या मसल मसल कर पीने मैं मस्त हो गया...वेशे भी उससे चुचियाँ पीने मैं मज़ा भी तो बहुत ही आता था....उसके हाथ भाभी की चुचिय्यों को कभी कभी बेरहमी से मसल भी देते थे.....जिससे भाभी की सिसकी अओर ज़ोर से निकल जाती थी.....आआआहह

शास...कया हुवा भाभी.....????

भाभी...एटनी बेरहमी से नही....शास थोड़ा धीरे से चुचियो को दबाओ.....दर्द होता है....वैसे ही तुम्हारे लंड ने तो मेरी जान ही निकाल दी......

शास...भाभी थोड़ी देर रुक जाऊ ....आप ही कहेंगी....कि शास अपने लंड को अओर लंबा अओर मोटा करके चोदो.....????

भाभी...सिसकियो के बीच भाभी के होंठो पर मुस्कान आ गयी थी....नही शास मेरी चूत मैं आगे गूंजाएस ही नही है.....अओर अभी तो तुम्हारा पूरा गया भी नही है......???

शास...हां ये तो है भाभी...अभी तो लगभत एक एंच तो बाहर होगा ही......

भाभी...बस इसे तो बाहर ही रहने देना...नही तो मेरी तो बच्चेदनि भी एक एंच अओर अंदर सरक जाएगी.....

शास...कुछ नही होगा भाभी....अओर शास भाभी के कोमल होंठो को चूसने लगा.....अओर चुचियो को सहलाता रहा.......कुछ देर ऐसे ही गुजर गये....उधर पूजा,पायल अओर कंचन आपेस मैं ही मज़े ले रही थी.... कंचन अब पायल की चूत को धीरे धीरे सहला रही थी अओर पायल पूजा की चूत को चाट चाट कर मज़ा ले रही थी....पूजा भी कहाँ पीछे थी...वो कंचन की कोरी सॉलिड टाइट चुचिय्यों को मसल मसल कर पी रही थी.....अओर उनकी सिसकियाँ चुदाई के इस महॉल मैं चार चाँद लगा रही थी.....उउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह आआअccccछ्ह्ह्ह्ह्हाआआउउउउउउउउउउउउउईईईईईस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईईईईईआआह्ह्ह्ह की धून वहाँ पर लगातार गूँज रही थी...एससे शास का लंड भाभी की चूत मैं ही झटके मार मार कर डॅन्स कर रहा था.......अओर अब तो शास का लंड थोड़ा थोड़ा अंदर बाहर भी होने लगा था......भाभी का दर्द भी कुछ कम हो चला था....वो भी शास की कमर अओर कभी कभी उसके चूतरो पर हाथ फेर रही थी....शास भी मज़े मैं कभी भाभी के होंठ अओर कभी भाभी की चुचिय्या पी रहा था.....

अब भाभी भी शास का सहयोग करने लगी थी....भाभी ने शास की जीभ को अपने मूह मैं लेकर चूसना सुरू कर दिया था....शास भी इसका आनंद उठा रहा था....

शास...भाभी शुरू करूँ कया.....???? अब मुझ से भी रुका नही जा रहा है....ये लंड अब मुझे बहुत परेशान कर रहा है....अब वो भी एक बार खाली होना चाहता है.....बहुत अकड़ चुक्का है.......

भाभी...हां शास अभी ज़रा धीरे धीरे ही करना....???

शास...ठीक है भाभी...अओर शास ने अपने लंड को भाबी की चूत मैं अंदर बाहर करना सुरू कर दिया था....मगर शास का लंड शास को पेरेशान कर रहा था....वो पूरा अंदर जाना चाहता था....पर भाभी की चूत एसके लिए अभी तय्यार नही थी....हां भाभी का दर्द अब काफ़ी कम हो गया था....अओर वे भी अब मज़े मैं आने लगी थी.....उनकी चूत ने एक बार फिर पानी छोड़ना शुरू कर दिया था...जिससे उनकी चूत अओर भी लूब्रिकेटेड हो चुकी थी अओर शास का लंड अब आसानी से अंदर बाहर हो रहा था.......शास के स्पीड बढ़ने लगी थी....अओर भाभी भी अब पूरे चुदाइ के मूड मैं आ गयी थी.....अब उनकी उत्तेजना की सिसकियाँ शुरू होने लगी थी....उउउउम्म्म्म्म आआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईइ आआआआआआआआआअहह शास का लंड अब पिस्टन की तरह तेज़ी से अंदर बाहर होने लगा था.....पर जो लंड अभी अंदर नही गया था....वो मज़े को अधूरा ही किए हुवे था.....तभी जोश मैं शास...के लंड के स्पीड धक्को मैं बदल गयी अओर एक जोरदार शाट मैं पूरा लंड भाभी की चूत मैं समा गया अओर भाभी की जोरदार चीख निकल गयी उउउउउउउउउउउईईईईईईईईएस्सीईईईईईईईईईईईईआआआआआआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह मर गयी..............उउउउउउउउउउउउस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईईईईईईईईइआआआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह मगर शास का लंड तो अपना काम कर चुक्का था.....शास ने भाभी को बाँहो मैं पूरी तरह से जाकड़ लिया था....अओर बिना रुके ही दनादेन धक्के पे धक्के लगा रहा था......जो सीधे जाकर भाभी की बच्चेदानि को चोट पहुँचा रहे थे....कुछ देर तो भाभी से दर्द से कराहती रही..ओर फिर.उनकी सिसकिययान गूँजती रही......पर कुछ देर बाद अब भाभी एक बार फिर एन धक्को को झेलने की लिए तय्यार हो चुकी थी......जब भी शास का लंड जाकर भाभी की बच्चेदनि को ठोकर मारता तो भाभी की उत्तेजीना अओर बढ़ जाती थी....उनकी सिसकियाँ अओर तेज होने लगी.....चूत से बराबर पानी बह.बह कर उसे अओर लूब्रिकेट कर रहा था....हर धक्के पर भाभी की सिसकारी निकल रही थी......आआअह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउईईईएस्स्स्सीईईईइआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह पर अब तो भाभी के चूतड़ उछाल भरने लगे थी.....भाभी चूतड़ उछल उछाल कर अब पूरा लंड ले रही थी.....शास भी पूरे मज़े मैं आ चुक्का था.....उसका लंड किशी पिस्टन की तरह तेज़ी से अंदर बाहर होकर ठोकर मार रहा था.....भाभी अब अपनी उत्तेजना के चरम पर पहुँच चुकी थी....उनके होंठो ने बड़बड़ाना शुरू कर दिया था......चोदो मेरे राजा....आआआआअहह हाई एसे ही ....आआअहह हाई शास ज़रा थोडा अओर....अंदर आआहह फाड़ डालो आज एसे.....आआअहह बहुत तरसाया है......शास तुम्हारे लंड ने आज सारे आरमान पूरे कर दिए.....आआआहह......चोदो अओर ज़ोर से....उउउउउउईईएस्स्स्स्सीईईईईइ आआअहह...भाभी..के हाथ शास पर पकड़ मजबूत करने लगे थे.....उनके जिस्म मैं लाखो बिजलिया कोंधने लगी थी....आज बरसो के बाद उनका जिस्म अब एन्ठने लगा था.....साँसे तेज अओर तेज गरम साँसे.....अब भाभी का मूह शास की गर्देन मैं जा छुपा था.....आज वो पूरी तरह से नीचूड़ जाना चाहती थी....फिर वो पल भी आया.....भाभी की चूत से जवाला मुखी फट पड़ा.....गरम लावा शास के लंड पर बौछार करने लगा...भाभी चेतना सुन्य सी हो गयी...बस उनका बंधन शास पर पूरी तरह से कस गया.....ऊवूऊवूयूवूऊवूऊवूऊवूऊवम्म्म्म्म्म्मायायायेयात्त्त शास मैं तो गइईईईईईईईईईई उउउउउस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईईईईईउउउउउउउउउउन्न्न्न्न्नाआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह.उउउउउउउउउउउन्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्नाआआआआआआआआ...शास भी अब तका चरम पर आ चुक्का था...शास ने भाभी को अओर जाकड़ लिया.....लो भाभी ये भी लो आआआआहह आआअसस्स्स्सिईईईईई आआआहह मैं भी आआआययययययाआआ भाभी.....आआआआहह ये लो.....आआआहओर शास के लंड ने भाभी के बच्चेदनि के खुलते बंद होते मुह पर तेज पिचकारी छोड़ दी.....जो सीधे भाभी की बच्चेदनि मैं दाखिल हो गयी.....गरम गरम वीर्या भाभी की चूत अओर बच्चेदनि मैं गिरा...भाभी ने शास को अओर ज़ोर से जाकड़ लिया.....दोनो अब हक़ीकत से दूर बहुत दूर....तारो की दुनिया मैं सातवे आसमान पर स्वेर्ग मैं तेर रहे थे.....शास का लंड रुक..रुक कर पिचकारी भाभी की चूत मैं छोड़ रहा था... अओर भाभी की चूत के गरम लावा से मिकर उसे एक अपार सन्तुस्ति दे रहा था.......दोनो यूँ ही चिपके रहे....एक दूसरी की बाहों मैं....बस अगर कुछ चल रहा था तो उनकी तेज साँसे अओर उनकी सिसकारिया.......आआआऔउउउईईईईईईईईऊऊऊऊऊओआआआआआऐईईईईईईइह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हाआआआआआआ आआआआआआआआआअईईईईईईईईईईईईईआआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह......................दूर तक बहुत दूर तक.......गहरी सिसकारी........आआआआआआआआआआआहह ऊवूऊवूयूवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म अओर दोनो एसे ही पड़े रहे कुछ देर अओर .......शास का पूरा लंड भाभी की चूत मैं जाड तक समाया था.....अओर भाभी....उससे अओर अंदर ले रही थी अंतिम छोर तक.......बच्चेदानि ने भी अंदर को...अओर अंदर को सरक कर रास्ता दे दिया था.....शास के लंड को....समा जाने के लिए....पूरी तरह से.........उउउउउउउउउउउउउउम्म्म्म्म...... आआआआआहह ऊऊऊऊऊऊऊऊह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउउउउम्म्म्म्म.. की सिसकियाँ अभी तक चल रही थी......लगभग 10-15 मिनिट्स तक यू ही.........

पड़े रहेने के बाद उनकी पकड़ कुछ ढीली हुई.... अओर भाभी अओर शास ने एक दूसरे के होंठो को चूमना शुरू कर दिया.....उन्होने आज उस परम आनंद का सच अनुभव किया था.....जिसका अनुभव रति अओर कामदेव किया करते थे....भाभी के चेहरे पर परम सन्तुस्ति के भाव दूर से ही नज़र आ रहे थे....मानो उन्होने आज अपनी मंज़िल को पा लिया हो......अभी भी उनके जिस्म मैं शिहरन से दौड़ जाती थी......उन्होने एक बार फिर शास को बाहों मैं भरकर चूतर को उप्पेर को उछाल दिया....जिससे उनकी चूत मैं फँसा शास का लंड एक बार फिर उनकी बच्चेदनि से टकरा गया....उउउउउउउईईईईईईम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्कि सिसकारी के साथ ही वे शास की आँखों मैं देखकर मुस्कुरा दी.....एस पर शास भी मुस्कुरा दिया थाअ........भाभी के सरीर मैं आज एक अजीब सी हलचल थी...जिससे वे अभी भी प्रेंसुख से आँखें बंद कर लेट गयी थी........

पूजा...भाभी....ये तो कोई बात नही हुई....???

गीता....आँखें खोलकर...कया हुवा दीदी....???

पूजा...आप तो शास को छोड़ने के लिए तय्यार ही नही है.....कया आप को मौलूम नही है कि अब मेरा नंबर है....इस चूत का हाल तो देखो....पायल ने चाट चाट कर इसे सुर्ख लाल बना दिया है....अब एसे भी लंड की ज़बरदस्त चाह हो रही है....मगर आप तो आज शास के लंड को छोड़ने को तय्यार ही नही हो भाभी....

गीता...आज बड़ी मुद्दत के बाद या यू कहो कि आज तो पहली बार ही सच्ची चुदाई का आनंद आया है...मन ही नही कर रहा है....इस लंड को बहार निकालने का....

पूजा...भाभी प्लीज़....अब छोड़ दो....एस पर भी तरस खाओ....कैई दीनो की भूखी है ये भी.....लाओ शास अब अपना लंड भाभी की चूत से निकालो....अओर मुझे दो.....देखू तो भाभी ने कहीं पूरा तो नही चूस लिया है.....????

शास...नही पूजा तुम्हारी लिए अभी बहुत माल है इसमे....चिंता मत करो.....

पूजा... पूजा अब तक गीता भाभी अओर शास के पास आ गयी थी....आरे तुम तो कुत्ते अओर कुतियाँ की तरह अभी तक जुड़े ही पड़े हो....हँसती हुई....चलो शास बाहर तो खिँचो...देखूं तो....तुमने भाभी के अंदर कया छोड़ दिया जो भाभी आज इतना खुस हो गयी है......???

शास...लो पूजा देख लो....अओर शास ने अपना लंड भाभी की चूत से बाहर खिच लिया.....वो एक फुच...की आवाज़ के साथ बाहर निकाला....पूरा लंड वीर्य से भंडा हुवा था....अओर अभी तक कुछ कड़ा ही था....भाभी की लाल-लाल हो चुकी चूत से सफेद वीर्य बाहर निकालने लगा......तभी पायल भी वहाँ पर आ गयी थी....

पायल...भाभी तुम्हारी छूट से शास भाय्या का माल निकल रहा है....काया मैं तुम्हारी छूट को छत सकती हून....?????

गीता भाभी...हां...कियूं नही...चाट लो.....

पायल.... भाभी की चूत चाटने मैं मस्त हो गयी....वाह भाबी कया माल है....वेरी टेस्टी टेस्टी.....उउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह मज़ा आ गया.......

भाभी....पायल ज़रा सा उंगली चूत मैं देकर मुझे भी तो चटा दे.....मैं भी तो टेस्ट कर लूँ.....????

पायल...हां कियूं नही...अओर पायल ने भाभी की चूत मैं एक उंगली सरका दी....भाभी उउउउउउईईईम्म्म्म्म के साथ उप्पेर को सरकने लगी....

पायल...कया हुवा भाभी....????

भाभी....शास ने भारी भरकम लंड से चोद चोद कर दुखा जो दी है....

पायल....उंगली भाभी के होंठो पर लगा कर....लो भाभी टेस्ट कर लो....????

भाभी....उउउउउउउउउम्म्म्म्म्म....वाह....रीयली कया टेस्टी है.....अबकी बार तुम्हारी चूत को मैं ही सॉफ करूँगी.....अओर पायल की आँखों मैं झाँकते हुवे भाभी मुस्कुराने लगी थी........

पूजा ने शास के लंड को भाभी की चूत से बाहर निकालते ही पकड़ लिया अओर अपने होंठो मैं ले लिया था.....पूजा शास के लंड को मस्त होकर कुलफी की तरह से चूम अओर चाट रही था.....जिससे शास के लंड मैं फिर से हरकत होने लगी थी.....उसमे फिर गरम खून दौड़ने लगा था.....अओर साइज़ फिर बढ़ने लगा था.....पूजा ने चाट चाट कर पूरी तरह से सॉफ कर दिया था......

पूजा...शास अब मेरी चूत मैं एसे बस एक दम डाल दो....मुझ से तो बिल्कुल रुका नही जा रहा है......????

भाभी...पूजा अभी रूको ज़रा...देखती नही हो....शास ने अभी दो.दो....चूत को चोदा है....वो भी थक गया होगा....पायल अओर कंचन जब तक किचन से शास के लिए दूध गरम करके लाती है....तब तक तुम एनके लंड से बस खेलती रहो....तुम्हारी चूत को मैं देख लेती हूँ......पायल जाओ ज़रा शास के लिए एक गिलास गरम दूध तो लेकर आओ.....पायल अओर कंचन किचन मैं चली गयी.....

पूजा....भाभी...मेरी चूत तो कई बार झाड़ चुकी है....पायल ने चाट चाट कर बुरा हाल कर दिया....पानी लगातार बह रहा है....अब तो शास का लंड ही एसे आराम दे सकता है.....????

गीता...मैने कब मना किया...पर ज़रा रूको तो.....शास भाय्या भी तो थक गये होंगे ना...????

शास...भाभी पूजा की चूत का तो ये लंड दीवाना है....एस्की चूत मैं तो ये सोता हुवा भी घुस जाएगा....

भाभी...अच्छा जी....एक बार की चुदाई मैं ही एसे पूजा की चूत इतनी पसंद आ गयी है.....??????

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: चुदाई का सिलसिला

Unread post by rajaarkey » 15 Dec 2014 04:22

चुदाई का सिलसिला पार्ट -17

दोस्तो मैं यानी आपका दोस्त राज शर्मा चुदाई का सिलसिला पार्ट -17 लेकर हाजिर हूँ

शास....भाभी चूत तो तुम्हारी भी कम नही है...बहुत ही टाइट है....पर पूजा ने जब लंड को मज़ा दिया था....जब अओर कोई वहाँ पर इसका ध्यान रखने वाला नही था......इस लिए जो बुरे वकत मैं काम आ जाए उससे कभी मत भूलो....???? एसलिए ये लंड तो हमेशा पूजा की चूत का एहश्ान्मंद ही रहेगा ना भाभी...????

भाभी...हां ये तो है पूजा की चूत का एहश्ां है तुम्हारेइसएस लंड पर....पर आज इसकी ऐसी चुदाई करो....कि ये खुस हो जाए....अओर इसका एह्शान उतर जाए....????

तब तक पायल अओर कंचन शास के लिए दूध लेकर वापस आ गयी थी....शास ने पायल से दूध लेकर एक ही साँस मैं ख़तम कर दिया.....

भाभी...बहुत जल्दी है शास....पूजा को चोदने की....????

शास...भाभी अभी बताया था ना...पूजा की चूत का एह्शान है इस लंड पर......

भाभी...तो कया आज पूजा की चूत को फाड़ने का इरादा है......?????

शास... नही भाभी....अभी पूजा के बाद कंचन की कुँवारी छोटी से चूत भी तो लंड का एंतजार कर रही है.....अओर फिर उसके बाद आपको तो एक बार अओर चोदना चाहता हूँ भाभी....

पायल...अओर मुझे.....????

इस पर फिर सभी एक साथ हंस पड़े..................

शास...पायल तुम कियूं चिंता करती हो....कल तुम्हारी चूत की एच्छा पूरी कर दूँगा....

पायल...पर शास भाय्या....कया कल तक ये चूत एंतजार कर पाएगी....इसमें तो अभी से खुजली मची है.....????

शास...पूजा से पूछ लो....मैं तो तुम्हारी चूत को ही पहले, एक बार अओर चोद देता हूँ....

पूजा....शास जब पायल का ये हाल है....तो 10 मिनूट इसे दे ही दो....इसकी खुजली मिटा कर फिर आराम से ही इस चूत को चोदना....

कंचन...आप सभी आपनी आपनी सोच रहे है...अओर ये चूत कब तक एंतजार करेगी....????

शास...कंचन ये दोनो पहले चुदवा चुकी है...अब एन्हे जीयादा देर नही लगेगी....अओर फिर इनकी चूत तो पहले ही पानी चोदने को तय्यार है....बस लंड का साथ मिल जाए....

कंचन...ठीक है...मैं तो अओर एंतजार कर लूँगी...पहले एँकी ही चोद दो....

शास...हां तो पहले पूजा या पायल....???

पूजा...पहले पायल को ही चोद दो एक बार अओर.....

शास...आओ पायल...

पायल...आना जाना कया है....चूत तो मेरी कंचन ने सहला-सहला कर तय्यार कर रखी है....बस जल्दी से अंदर करो....अओर बस.....

शास....पायल की टाँगों के बीच आया...अओर लंड का सूपड़ा....उसकी चूत के छेद पर रख दिया....उउउउउउउउउउईईईईईईईई उउउउउउउउउउम्म्म्माआआआआह्ह्ह्ह्ह शास का लंड चूत पर लगते ही पायल मज़े मैं आ गयी थी......पर अभी तक दुख रही थी....शास ने पायल की दोनो टाइट बिग.बूब्स अपने हाथों मैं लिए अओर एक हल्का सा धक्का लगा दिया.....उउउउउउउउईईईईईईस्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईईईईईआआआआआआम्म्म्म्म्म्म्म से चीख पायल के मूह से निकल गयी....

शास...कया हुवा पायल...????

पायल...कुछ नही...पहले से ही फाड़ जो रखी है....कुछ तो दर्द होगा ही ना....???

शास...तो फिर तुम पूरी तरह से तय्यार हो....????

पायल...हां शास...चोद डालो....जो होगा देखा जाएगा.....शास के लंड का सूपड़ा तो पहले ही पायल की चूत मैं था......अब शास ने हल्के-हल्के धक्को से लंड को अंदर करने लगा था....कुछ ही देर मैं पूरा लंड पायल की चूत मैं समा गया..........एस बार पायल को कुछ कम दर्द हुवा....अओर शास ने भी तो लंड को धीरे धीरे ही डाला था.....शास पायल की बिग.बूब्स को मस्ती मैं पीते हुवे लंड को अंदर बाहर करने ल्गा था.....तभी पायल ने शास का चेहरा अपने हाथों मैं लेकर उसके होंठ चूमने शुरू कर दिए अओर अपनी जीभ शास के मूह मैं डाल दी....शास के हाथ पायल की चुचिय्यों को मसल रहे थे...अओर शास पायल की जीभ को चूस रहा था.....लंड पिस्टन की तरह चूत मैं अंदर बाहर हो रहा था.....

भाभी...पूजा तुम्हारी चूत की शास बड़ी तारीफ्फ कर रहा है...ला मैं भी तो देखो...कैससी है....

पूजा...ने अपने दोनो पैर चौड़े कर फैला दिए...लो भाभी...अगर आप थोडा चाट दो तो मुझे अच्छा लगेगा.....अओर भाभी ने पूजा की चूत को देखा...वास्तव मैं उसकी लालिमा भाभी को भी लुभाने लगी थी.....अओर भाभी ने पूजा की चूत को चाट कर अपनी जीभ पूजा की चूत मैं डाल दी....उउउउउउईईईउउउउउम्म्म्म्माआअह्ह्ह.. पूजा की सिसकारी निकल गयी....अओर भाभी मज़े से पूजा की चूत से खेलने लगी थी..... भाभी पूजा की चूत मैं मैं जीभ डालकर चारों अओर घुमा-घुमा कर चूत चाट रही थी.....कभी कभी क्लिट पर भी जीभ फेर रही थी.....अब भाभी ने पूजा की चुचिय्या मसल मसल कर चूत चाट रही थी....पूजा की जंघें बड़ी ही सॉलिड गदराई हुई थी....उनको चूमने अओर चाटने से भी भाभी को बड़ा सुक्ख मिल रहा था......थोड़ी ही देर मैं पूजा की चूत ने पानी छोड़ दिया अओर चूत का पानी एक लहर की तरह से भाभी के चेहरे पर गिरा कुछ उनके मूह मैं भी गिरा.....

भाभी...पूजा बाते नही तुमने....की तुम्हारी चूत छूटने वाली है.....मैं पूरी चूत को मूह मैं भर लेती....ये डेलीशियस जल बेकार तो नही जाता.....कंचन...बेकार कहाँ जाएगा....लाओ मैं तुम्हार चेहरा चाट कर सॉफ कर देती हूँ.....

पूजा...मस्ती अओर मज़े मैं कुछ नज़र ही नही आया....बस पानी छूट गया....

उधर शास का लंड पायल की चूत को चोद चोद कर उसका भोसड़ा बनाने मैं लगा था.....अओर पायल भी चूतड़ उछाल उछाल कर पूरा लंड ले रही थी....उसकी बच्चेदनि भी लंड की ठोकर खा-खा कर घायल हो चुकी थी.....पर पायल को अब मज़े के सिवाय कुछ भी नज़र नही आ रहा था......अब पायल पानी छोड़ने के लिए पूरी तरह से तय्यार हो चुकी थी.....उसके चूतड़ तेज़ी से उछाल रहे थे ....पायल के सरीर मैं लाखों चीटियो एक साथ दौड़ने लगी थी.....पायल की चूत की गर्मी से शास का लंड भी पिघलने लगा था.....जियों-जियों शास के लंड की स्पीड बाद रही थी....वैसे वैसे शास के लंड ने भी पायल की चूत को पानी(वीर्या) से भरने की सोच ली थी....हर धक्के के साथ शास अओर पायल के सरीर मैं बिजलियाँ दौड़ने लगी थी....उनकी साँसे अनियंत्रित होने लैगी थी.....जैसे कोई भयंकर तूफान आने ही वाला हो......शास के लंड ने पायल की टाइट चूत को दूसरी ही चुदाई मैं भोसड़ा बनाने मैं कोई कसर नही छोड़ी थी.....हर धक्के पर पायल अओर शास की सिसकारियाँ गूंजने लगी थी.....आआआअहह....उउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म.....स्स्स्सीईईईईईइउउउउउउउउएउईईउउउउcccछ्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हाआआआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म............आआआईईईईईआआआआआआआहूऊऊऊऊऊईईईईईईईईईईईई

पायल....आआआअहह शास आआआहह अओर ज़ोर से फाड़ डालो.....उउउउम्म्म्म्म

शास...ये ले.....अओर ले.....शास लंड को बाहर खिच-खिच कर धक्को की बौछार कर रहा था......अओर हर धक्के पर पायल उछल जाती थी.....उनके सरिरों का मानो लावा बन चुक्का हो.....अओर सारा सरीर नीचूड़ कर पायल की चूत मैं गिरने ही वाला हो.........पायल के हाथ जो शास के बदन पर तेज़ी से घूम रहे थे....अब वे शास के बदन पर कसाव बढ़ने लगे थे.....शास को खिच कर अपने सरीर मैं लेना चाह रहे थे......तूफान चरम पर था.. बाँध टूटने ही वाला था......पायल समा जाना चाहती थी शास मैं.....उसकी चूत शास के लंड की लंबाई....उसके धक्को की मार से अब चीखती नही थी....हां सिसकारियाँ निकल रही थी.....शायद यही हाल अब शास का भी हो चुक्का था.....उसका लंड भी आज पायल की कुँवारी चूत को अपने पानी से भर देना चाहता था.......

पायल...शास मुझे अब कुछ होने ही वाला है.....उउउउउम्म्म्माआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह शास मुझे ये कया हो रहा है.....आआआआहह......आआआईईई ऊऊऊउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह और पायल की आँखें पूरी तरह से बंद हो गयी....अब वो सातवे आसमान पर थी.....सभी अहसासो से दूर एक मस्ती एक शुरूर मे डूबी हुई....जहाँ पर सिरफ़ सुन्य (ज़ीरो) ही होता है.......अब उसने शास को अपनी बाँहो मैं पूरी तरह से पूरी ताक़त से जाकड़ लिया था.....बाँध टूट चुक्का था.....अओर पायल की चूत मैं पूरे सरीर से नीचड़ा हुवा लावा ..... पहला .... गरम लावा.....शास के लंड पर फूट पड़ा...जिसकी गर्माहट को शास का लंड भी बर्दास्त नही कर पाया....अओर शास के लंड ने भी फूटने की तय्यारी मैं...अपनी स्पीड बढ़ा दी...बंधन टाइट हो गये....उउउउउउउउम्म्म्म्माआअह्ह्ह्ह....की सिसकी से साथ ही कुछ ही पलों मैं शास के लंड ने भारी अओर तेज पिचकारी पायल की चूत मैं छोड़ .........झटको के साथ उसकी कई पिचकारी पायल की चूत मैं गिरी.... ....उउउउउउउउउउउउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआआआआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ऊऊऊऊऊऊऊईईईईईईईस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईइआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह के साथ पायल अओर शास एक दूसरे से एसे चिपक गये.....मानो उन्हे अब कभी दूर नही होना है......पायल ने एस मस्ती को पहली बार ही एंजाय किया था.....अभी भी शास का लंड रुक रुक कर कई धक्के पायल की चूत मैं लगा रहा था.....उउउउउम्म्म्म्म आआआआहूऊऊऊऊऊईईईईईईईसस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सिईईईईईईईईईईईईईईईईईई की धून पर धीरे धीरे दोनो शांत होने लगे थे.....पर अभी भी वे सातवे आसमान पर दुनिया से दूर.....एक दूसरे की बाँहो मैं बँधे..... शास के लंड से रुक रुक कर पायल की चूत मैं पिचकारी....आआआआआआआआहह.........अभी भी छूट जाती थी....जो सीधे पायल की बच्चेय्दनि पर ही पड़ रही थी.........

कई मिनिट्स तक दोनो एसे ही लेते रहे...जब तक पूजा ने उन्हे हिला कर नही उठाया.....

पूजा....काया हुवा सो गये काया.....???

पायल....स्वर्ग से लौटे हूँ....कसमसे!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

शास का लंड अभी भी पायल की चूत मैं ही फँसा था....पायल तो निहाल हो गयी थी.....इस परम सुख की तो उसने कल्पना भी नही की थी.....जो उसे आज शास ने चोद कर दिया था.....पायल शास को बाँहो मैं लिए हुवे ही शास को चूमने लगी थी.....जैसे आज उसने आपने साजन के साथ सुहग्रात का आनंद लिया हो....अओर वह उस पर नीवछावेर हो जाना चाहती हो.......

कंचन...पायल दीदी....???? अभी अओर भी एंतजार मैं है......अब तो इस लंड को खाली छोड़ दो....

पूजा...हां पायल....अब मेरी चूत से रुका नही जा रहा है....भाभी ने भी चाट चाट कर दो बार पानी निकाल दिया.....पर बिना शास के लंड की चुदाई को वो मज़ा कहाँ आता है......शास अब तो लंड को बाहर निकाल लो...????

शास...पूजा इस लंड को भी तो ज़रा पायल की मखखनी सी चूत का थोड़ा पानी पी लेने दो...???

पूजा...शास अब इस लंड को जीयादा पानी ना पीलाओ....मेरी चूत तो बर्दास्त नही कर पाएगी.....पहले से ही बहुत बड़ा है....पानी पीकर तो अओर बड़ा हो जाएगा.....पूजा ने मुस्कुरकर कहा.....

शास...कियूं पूजा तुम्है बड़ा लंड नही चाहिए...????

पूजा...बड़ा तो चाहिए...पर तुम्हारा तो पहले ही गधे जैसा है....अब कया इसे हाथी (एलिफेंट) का लंड बनाने का इरादा है.....????

शास....हां है तो....कया लोगि उससे...???

पूजा...कया मारने का इरादा है....चूत ही तो है....कोई भोसड़ा नही जिसमे जो चाहो डाल दो.....???

शास...जी नही मैं लंड की बात कर रहा हूँ....???

पूजा...शास तुम जो भी डालोगे...डाल दो....बस अब जल्दी करो.....अब मेरी चूत मैं आग लगी है....जल्दी से एसे बुझाओ शास.....मेरा अओर चूत का अब बुरा हाल है ने जाने अब तक कैसे एंतजार किया है...????

शास...कियूं पायल....कहो तो अब निकाल लूँ...????

पायल...हां कहने का मन तो नही है....पर एन सबका ध्यान जो है...वेर्ना बस ये लंड एस चूत से बाहर ही ना निकलने.....तो ही अच्छा लगता है.....

कंचन...अब जल्दी करो....शास....इस तरह से तो मेरी बारी तो आए गी ही नही....???

शास...कियूं नाराज़ होती हो कंचन....तुम्हारी चूत को तो आराम से बड़े मज़े से चोदना है....बस पूजा के बाद शिरफ़ तुम्हारी ही चूत मेरे लंड के करीब रहेगी.....

भाभी...एसा ज़ुल्म ना करना देवेर्जी...इस चूत को कम से कम एक बार तो अओर चोद ही देना......बरसों के बाद कोई लंड मिला है.....वेर्ना ये चूत तो अभी तक कुँवारी ही थी.......कियूं की एसा लंड तो आज तक मिला ही नही था.....

शास...ठीक है भाभी....पर इस लंड का कया होगा....कया ये इसके बाद तय्यार भी होगा.....????

भाभी...इसे तो मैं तय्यार कर लूँगी....बस तुम तय्यार रहना....???

शास...ठीक है भाभी....कह कर शास ने पायल की चूत मैं फँसे हुवे अपने लंड को धीरे से बाहर खिछा....जो अभी तक पायल की टाइट चूत मैं था , चूत की दीवारो ने मजबूती कस जाकड़ रखखा था...उसपेर शास का लंड भी अभी तक...मस्ती मैं ही था...उसकी टाइटनेस बता रही थी की उसकी चूत की भूखा लगतार बढ़ती ही जा रही थी......वो तो सायेद अब चूत का भूखा लंड बन चुक्का था....हा भूखा लंड....दोस्तो मुझे भी ये लगता है कहानी का नाम भूखा लंड होना चाहिए था..जैसे ही शास ने लंड को पायल की चूत से बाहर खिछा....ढेरसारा चूत का पानी अओर शास के लंड का वीर्य मिला हुवा....पायल की चूत से बाहर निकलना शुरू हुवा तो कंचन तो इसी पर नज़र गढ़ाए बैठी थी....उसने तुरंत अपना मूह पायल दीदी की जांघों मैं दे देया....अओर उस टेस्टी पानी को मस्त होकर पीने अओर चाटने लगी.....कंचन ने पायल की फिर से टाँगे उठाकर उसकी चूत को मस्ती मैं पीने लगी थी....इससे पायल के एक बार फिर सिसकारी निकलने लगी थी.....उउउउउम्म्म्म्म.........आआआआहह क्क्क्क्क्क्काआआन्न्न्न्न्नccccछ्ह्ह्ह्हाआआअन्न्न्न्न्न्न्न आआआअहह ट ले आआहह ज़ोर से आआआहह....उउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म....अंदर तक पी जा......

गीता....शास तुम्हारा लंड तो वास्तव मैं पायल की कुँवारी चूत का पानी पीकर अओर मस्त हो गया...इसका सूपड़ा तो अओर मोटा अओर सुर्ख हो गया है....अओर भाभी ने अपने मूह मैं लेकर चाटने लगी.....वह कया डेलीशियस मिक्शुरे है......वह...?????

पूजा...भाभी....अब तो ये लंड मुझे दे दो....????

भाभी...ये लो मेरी रानी....अब...फडवा लो...आज तो ये तेरी चूत को फाड़ कर ही रहेगा....ये तो पहले से भी भारी हो चला है......????

पूजा ने शास के लंड को अपने मूह मैं ले लिया....अओर बड़े ही प्यार से उससे चूसने लगी....शास के लंड का साइज़ फिर असचार्य जनक रूप से बढ़ गया था....लंड था कि मुसाल....????

शास...पूजा....तुम्हारी चूत तो पहले से ही तय्यार है....अओर इस लंड को तो चूत से बाहर रहने की जैसे आदेत ही छूट गई है....इसे तो बस चूत मैं रहना ही जीयादा पसंद है..... शास पूजा के दोनो पैरों के बीच बैठ कर बोला.....

पूजा...इस पल के लिए...कब से एंतजार कर रही हूँ...मुझे कोई एतराज नही....बस डाल दो..???

शास...पूजा तुम्हारी चुचियो का दूध बहुत मीठा है....कया थोड़ा सा दूध पी लूँ.....????

पूजा...हा कियूं नही....पर पहले इस लंड को पूरा अंदर डाल कर....??? फिर तुम मेरा दूध पी लेना मेरे राजा मेरी चूचियो में जितना भी दूध है सब तुम्हारे लिए ही तो है

शास...अच्छा इतनी जल्दी है तो ये लो...??? अओर शास ने अपने दुबारा...फुन्फुनते हुवे लंड को पूजा की चूत के छेद पर रख दिया....शास के गरम गरम...लंड का सूपड़ा.....चूत पर टच होते ही...पूजा के बदन मैं बिजली से दौड़ गयी....अओर अनायास ही पूजा के चूतड़ ने एक उछाल सी मार दी....पर शास का लंड इस चेतावनी को कैसे बर्दास्त कर सकता था....शास के लंड पर पूजा की चूत का झटका लगते ही वो फूँकार पड़ा....उसका सूपड़ा अओर फूल गया.....उसकी मोटाई मानो दुगनी हो गयी हो....शास ने भी पूजा की टाँगो अओर उप्पेर को खींच कर चूत का मूह थोडा अओर चौड़ा किया

अओर पूजा की मांसल जांघों की नीचे भारी भारी कूल्हे पकड़ कर एक जोरदार धक्का मार दिया.......उउउउउउएउईईईईएआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्स्स्स सस्स्सिईइ....माअररर गयी.......के साथ पूजा की चीख निकल गयी....पर इसके साथ ही एक चौथाई लंड पूजा की चूत मैं समा चुक्का था..... अओर आज फिर पूजा की आँखों से आँसू निकल आए थे.........

पूजा...थोड़ा धीरे डालो ना शास....??? मेरी तो जान ही निकाल दी.....??? देखों ना मैं दर्द के मारे मरी जा रही हूँ.....आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्स्स्स्स्स्सीईईआआआअह्ह्ह्ह.....

शास...ये धीरे से कहाँ जाएगा...??? तुम्हारी चूत तो अभी भी टाइट ही है....धीरे धीरे डालने से तो ये पूरी रात मैं भी नही जाएगा....????

पूजा...तो कया आज ही ढीली कर देना चाहते हो...???

शास...फिर ये लंड तो आराम से जाने लगेगा...

पूजा...अओर तुम्हारे बाद अगर इतना भारी लंड ना मिला तो...मैं कहाँ अपनी प्यास भुजाउन्गि???

शास...मेरे पास आ जाना.....मैं इसे अओर तेज कर लूँगा....???

पूजा...वो कैसे...???

शास...तुम्हारी इस कुँवारी चूत का रस पीला-पीला कर.....

पूजा...पर अब ये कुँवारी कहाँ रही....इसे तो तुमने चोद कर भोसड़ा बना दिया है.....अओर आज तो लगता है.......????

शास...अगर भोसड़ा बन गया होता तो....तुम्है दर्द कहा होता....ये लंड भी आराम से घुस गया होता...????

पूजा...तुम्हारे लंड को तो भोसड़ा भी कुँवारी चूत ही नज़र आती है....इतना मोटा अओर लंबा जो है....??? आआआआहह.........

शास...अब अओर अंदर करू कया...????

पूजा...अच्छा जो करना हैं बस एक बार ही कर लो....बार बार मैं जीयादा दर्द होगा........मैं मना भी करूँगी तो कया अंदर नही करेंगे ....???

शास...नही...बिल्कुल नही....अभी बाहर निकाल कर कंचन की चूत मैं डाल देता हूँ....

पूजा...कंचन की चूत मैं डाल देता हूँ...??? मूह बनाकर....अओर इस चूत का कया होगा...???

शास...दर्द तो नही होगा...???

पूजा ...दर्द तो नही होगा...????.बड़ी चिंता है दर्द की....????अब जल्दी से बस एक ही बार मैं डाल दो जो होगा देखा जाएगा.....झेलना तो है ही....

शास...कियूं कया डॉक्टर ने बताया है...??? रहने दो....???

पूजा...अब डालो भी....ये चूत तो नही मानती....ये तो हर हाल मैं दर्द देती है....डाल दो तो भी दर्द अओर ना डालो तो दूसरा दर्द...???? पूजा ने अपने होंठ भींच कर अपने को आने वाले पल के लिए तय्यार कर लिया था......

शास...ने लंड को थोड़ा बाहर खींचा....अओर दना-दन एक....दो....तीन.....चार....धक्के लगा दिए.....अब शास का लंड पूरी तरह से पूजा की चूत मैं समा गया था पर पूजा की चीखे दूर तक जा रही थी....भाभी ने पूजा के मूह पर अपना हाथ रखा दिया था,....आआआआआआआअईईईईईस्स्स्स्स्स्सीईईईई ईयी उउउउउउउउउम्म्म्म्माआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सिआआआआआ आआअहहाआआआआअ आ फट गयी भाभी आआअहह......म्‍म्म्ममाआअरर्ररर ग्ग्गाआययययीीईईईईईईई उउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हीईईईईईईईईस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सीई ईईईईईईईई की सिसकियाँ अओर चेहरे पर दर्द के रेखाए खिचि हुई थी.....उसका हलक सूख गया था.....आँखों से पानी बह रहा था.....दर्द अब उससे बर्दास्त नही हो रहा था....अओर शास पूरा पूजा के उप्पेर आ गया....अओर पूजा की चुचियाँ मसल मसल कर पीने लगा था.....

भाभी...पूजा थोड़ा बर्दास्त कर लो उसके बाद सब ठीक हो जाएगा.....अओर तुम तो पहले भी इस लंड को ले चुकी हो...???? फिर आज इतना परेशान कियूं हो....???

पूजा....भाभी उस दिन तो ये इतना बड़ा अओर मोटा नही था...आज तो मेरी जान ही निकाल दी....लगता है आज तो मेरी बच्चेदनि भी फाड़ ही दी होगी....????

भाभी....घबरा मत कुछ नही होगा... बस थोड़ा सा बर्दास्त कर ......मैने तो समझा था कि तुम पूरी तरह से चुद वाने के लिए फिट हो....पर तुम्हारी हालत तो कुँवारियों से भी खराब है....मैं तो सोच रही हूँ कि बेचारी कंचन का कया होगा....?????

कंचन...मेरा कुछ नही होगा भाभी...मैने अपने को हर मुसीबत के लिए तय्यार कर लिया है.....थोड़ी देर के दर्द के बाद तो बस मज़े ही मज़े है....फिर एक ना एक दिन तो होना ही है...कियूं ना आज ही कहानी ख़तम हो जाए....????

भाभी...वेरी गुड....ये हुए ना कोई बात....???

कंचन...हां भाभी आप लोगो की हालत देखकर मैने तो यही विचार बनाया है.........आगे जो भी होगा देखा जाएगा......बस एक बार पूरा अंदर जाने के बाद ही सोचा जाएगा......जो दर्द होगा उससे भी झेल लेंगे......कुछ ही देर का तो होगा......???

भाभी....यही तो सही बात है...एसीलिए तो मैने शास से कहा था कि बस पहले पूरा अंदर करके ही रुकना....मेरे दर्द पीड़ा पर ध्यान मत दो....

पूजा ...मैं भी कुछ कम नही...पहले भी ले चुकी हूँ अओर आज भी पूरा अंदर है.....रही दर्द की तो हट जाएगा.....आआआआआआआआअहह..... .....

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: चुदाई का सिलसिला

Unread post by rajaarkey » 15 Dec 2014 04:22

चुदाई का सिलसिला पार्ट -18

गतांक से आगे ..................

पर शास इन सब कहानियों से अलग अपना दूध पीने मैं मस्त रहा.....वह तो पूजा की चुचियाँ मसल मसल कर पी रहा था......आआआआहह उउउउउईईए....शास प्लीज़ थोड़ा धीरे दबा......दर्द होता है.....अभी तो चूत का ही दर्द बर्दास्त नही हो पा रहा है.....आआआआअहह उउउउउउस्स्स्स्स्सीईईईईइ....पर शास तो अपनी मस्ती मैं मस्त चुचियाँ मसल मसल कर पी रहा था.....बीच बीच मैं वह पूजा के होंठ अओर उसकी गर्देन मैं मूह देकर भी चूम रहा था.....अओर उसके होंठ फिर से पूजा की चुचियो के निपल पर आकर रुक जाते थे.....अब धीरे धीरे पूजा का दर्द भी कम होने लगा था.....अब पूजा भी धीरे धीरे एंजाय करने लगी थी.....अब उसके चूतदों मैं भी थोड़ी थोड़ी हलचल शुरू होने लगी थी.......कुछ देर तक यू ही चलता रहा......शास ने पूजा की स्थिति भाँप कर अब अपना लंड भी अंदर बाहर करना शुरू कर दिया था......अओर पूजा भी अब चूतड़ उछाल उछाल कर सहयोग करने लगी थी.......शास का लंड अब तेज़ी से अंदर बाहर होने लगा था......अओर पूजा की सिसकारियाँ गूंजने लगी थी......उउउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्माआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्स्स्स्स सस्स्स्सिईईईईईई...... इसके साथ ही शास के धक्को मैं अओर तेज़ी आ रही थी.....जिससे पूजा की चीख निकल जाती.....शास का लंड पूजा की बच्चेदनि पर ठोकरे मार मार कर उसकी धज्जिया उड़ा रहा था.....अओर पूजा अब स्वर्ग मैं सैर कर रही थी.....अब वो पूरा लंड निगल रही थी......उसे अब कोई पेरवाह नही थी....कि उसकी चूत का कया होगा.....बस फड्वाने मैं लगी थी......अओर उछल उछल कर अओर अंदर तक ले रही थी.....साथ साथ....सिसकारिया निकाल रही थी......आआआआआआआहह अहह शास.....ओह!!! शास.......आआआआआअहह उउउउउउउम्म्म्म्म्म आआआय्य्य्य्य्य्यीईई..........ईईईईसस्स्स्स्स्स्स्स्सस्स ईईईईईईईईइआआआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह...की सिसकारियाँ हो रही थी.....अओर उधर..............

कंचन...कंचन ने पायल की चूत को चाट चाट कर पूरी तरह से सॉफ कर दिया था......अपनी जीभ को चूत के अंदर डाल डाल कर चाट लिया था......

शास का लंड मस्त होकर पूजा की चूत को चोद रहा था...अओर भाभी धीरे-धीरे अपनी चूत अओर चुचियो को सहला रही थी....बरसों के बाद उन्हे चुदाई का मज़ा आया था....उनकी उत्तेजना फिर से बढ़ने लगी थी...चुचियो के निपल्स टाइट होकर खड़े हो गये थे अओर चूत फिर से पानी छोड़ने लगी थी....तेज अओर गरम साँसे हो चली थी.... उनकी एच्छा फिर से शास के लंड को खाने की हो गयी थी...वह अब अपने को रोक नही पा रही थी....

भाभी...कंचन अब ज़रा मेरी चूत को भी तो चाट दे....बड़ी खुजली हो रही है.....अब तो रुका ही नही जा रहा है......

कंचन...हां कियूं नही भाभी मेरी तो खुद की एच्छा हो रही थी.....तुम्हारी चूत को चाटने की....भाभी आपकी चूत बहुत ही प्यारी अओर रसीली नज़र आ रही है....

भाभी...कंचन अब बस शुरू हो जा खुजली बढ़ती ही जा रही है....

कंचन...भाभी कही इस बार भी तो आप मेरा पत्ता काटने की तय्यारी तो नही कर रही है....ज़रा मेरी चूत का हाल तो देखो....पानी छोड़ छोड़ कर तालाब बन गयी है.....

पायल...लाओ कंचन मैं तुम्हारी चूत को चाट्ती हूँ....तुम्हारी कुँवारी चूत का पानी भी बड़ा ही मधुर अओर स्वदिस्त होगा...?????

कंचन...हा...ले बेहन....अओर कंचन ने अपने पैर चौड़े कर दिए...अओर पायल ने मस्ती मैं कंचन की चूत चाटनी शुरू कर दी थी....उधर कंचन ने भाभी की चूत मैं अपना मूह दे दिया था....

आआआआआआहह उउउउउउउउउउउउउउईईईईएआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह....भाभी की सिसकारिया निकालने लगी थी....अओर यही हाल तो कंचन का भी था....किशी ने आज पहली बार उसकी चूत को चाटा था...जैसे ही पायल की जीभ कंचन की चूत मैं जाती तो कंचन की भी सिसकारी निकल जाती.....उउउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हीईईईएह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउउउउउउउआ आआआआआआअहह..........पायल के हाथ भाभी की चुचिय्यों पर आ गये थे अओर भाभी कंचन की चुचियो को मसल्ने लगी थी....रूम मैं एक साथ कई सिसकारियाँ गूँज रही थी....वहाँ का काम माय महॉल कामराज कामदेव अओर रति को मानो वहीं खिच लाया था....

शास के लंड की रफ़्तार काफ़ी तेज हो गयी थी.....पूजा की चूत एक बार पानी छोड़ चुकी थी...पर शास के लंड का पानी निकलने का कोई आसार नज़र नही आ रहा था.....शास के हर धक्के पर पूजा मचल जाती अओर उसकी सिसकारी निकल जाती थी....आआआआआआआहह......उउउउम्म्म...आ ह हाई शास आअहह चोद दो अओर ज़ोर से...आज पूरी पियास बुझा दो इस चूत की...पूजा की चिकनी हो चुकी चूत मैं शास का लंड पूरी गति से पिस्टन की तरह अंदर बाहर हो रहा था....अओर शास के हर धक्के की चोट उसकी चूत की क्लिट अओर बच्चएदनि पर पद रही थी जो पूजा की उत्तेजना को अओर भयंकर कर रही थी....उउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआआअह्ह्ह्ह्ह अब पूजा के होंठ फड़फड़ने लगे थे...उसकी आवाज़ आसपेस्ट हो चली थी...पूजा बड़बड़ा रही थी.....उउउउउम्म्म्म्म्माआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह चोद डाल..फाड़ दे मेरे राजा....आआअहह अओर एक बार फिर उसकी शास की कमर पर पकड़ बढ़ने लगी थी.....उसके पूरे सरीर मैं खिचाव आ गया था....उसका पानी छूटने वाला था...उसकी बंद आँखें अओर ज़ोर से भिचने लगी थी.....अओर पूजा की चूत मैं पानी का ज़लज़ला फुट पड़ा........उउउउउउउउउउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्माआआआआआह हह.........उउउउउउउउईईईईईईईएस्स्स्स्स्स्स्स्स्स सीईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईय्ाआआआआआअम्म्म्ममममममाआ आआआआआअ.....अओर पूजा पूरी तरह से शास से चिपक गयी...पर शास के धक्को के रफ़्तार अभी भी कम नही हुई थी.....पूजा की चूत एक-एक बूँद निचोड़ कर शास के लंड पर अपना पानी गिरा चुकी थी.......पूजा स्वर्ग मैं तैरती रही....जब तक उसकी चूत ने पानी की आखरी बूँद तक नही छोड़ दी.....उउउउउउउउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म्माआआआआआआह हह अओर उसके बाद पूजा पूरी तरह से निढाल सी होकर शांत हो गयी......पर शास के लंड की रफ़्तार जस की तस बनी रही.....अओर पूजा की चूत से फूच-फुचा-फूच की आवाज़ निकाल रही थी......पूजा को निढाल सी देख कर ......

शास...कया हुवा पूजा...???

पूजा...शारी तो निचोड़ दी...एक ही चुदाई मैं कई बार पानी निकाल दिया....अब निढाल नही तो कया टाइट हूँगी....????

कंचन...खुस होकर...तो कया अब मेरा नंबर आ गया...???

भाभी...प्लीज़ कंचन....बस एक बार अओर मुझे निपट लेने दो...चूत मैं बड़ी खुजली हो रही है...उसके बाद तो बस शास का लंड अओर तुम्हारी चूत बस एन दोनो की लड़ाई ही बाकी रह जाएगी...मैं वादा करती हूँ.....जब तक तुम खुद नही कहोगी....शास का लंड तुम्हारी चूत से बाहर नही निकलेगा......

कंचन...ठीक है भाभी...मैं तो थोड़ी देर अओर बर्दास्त कर लूँगी...लेकिन आपने वादा किया है उसके बाद ये लंड जब तक मैं चाहूँगी मेरा ही रहेगा....????

भाभी...हा कंचन ये वादा रहा.....शास अब तो एसे पूजा की चूत से बाहर निकाल लो...वह तो बेदम हो गयी है.....???

शास...भाभी अभी तो मेरे लंड का पानी निकालने मैं काफ़ी देर है....अभी तो मैं पानी छोड़ने के आस-पास भी नही हूँ अभी से एस लंड को कैसे पूजा के चूत से बाहर निकल लूँ....????

भाभी...शास इस पानी को मेरी चूत मैं निकाल लेना....मुझे तुम्हारे बच्चे की मा जो बनना है....???

शास... तो ठीक है भाभी...अओर शास ने फूंकरते हुवे लंड की पूजा की चूत से बाहर खिच लिया....शास का लंड फूंकरते हुवे अजगर की तरह बाहर निकल आया....अओर पूजा की चूत एक सुरंग की तरह खुली हुई थी.....कंचन ने शास के लंड को हाथ मैं लेकर उसे चाटना शुरू कर दिया.......

कंचन....भाभी पूजा की चूत का पानी तो बड़ा ही मज़ेदार है....????

भाभी...कंचन अब इस लंड को छोड़...मेरी चूत से अब रुका नही जा रहा है....शास अब जल्दी से इसे मेरी चूत मैं डाल दे.....भाभी शास के लंड को गौर से देख रही थी जो गधे के लंड की तरह झटके खा रहा था....

शास...ये लंड तो वैसे ही बेकरार हो रहा है भाभी....अच्छा है पहले ये तुम्हारी चूत ही चोद ले...वेर्ना कंचन की चूत तो अभी इसे संभाल भी नही पाएगी.....पूजा की चूत का रस पीकर तो ये अओर भी पागल हो चुक्का है....

भाभी...फिर देर किस बात की है....बस सीधे अंदर डाल दे....देखा नही मेरी चूत भी अब पागल हुई जा रही है....????

शास...ये लो भाभी...मैं कहाँ देर कर रहा हूँ...इस लंड की बेकरारी तुम्हारी चूत मैं जाकर ही कुछ कम होगी...अओर शास भाभी के पैरो के बीच मैं आकर भाभी के दोनो पैर उठाकर अपने कंधों पर रख कर दान-दनाते हुवे लंड को भाभी की चूत के मूह पर रखा कर भाभी की दोनो चुचिया अपने हाथों से कस कर पकड़ ली थी....

शास का गरम रोड की तरह चूत पर टच होते ही भाभी की आह निकल गयी.....अओर आँखें बंद हो गयी थी....उउउउउउउम्म्म्म्म्म्म अओर बस उस पल के एंतजार मैं भाभी थी कब शास एक जोरदार धक्का लगाकर पूरे लंड को उनकी चूत मैं दाखिल कराए.....?????

आख़िर शास का लंड तो अपनी पोज़िशन ले चुक्का था....अओर अब उसे जानां था... अपनी मंज़िल की अओर....भाभी की चूत की हलचल का इशारा मिलते ही शास ने एक जोरदार धक्का लगा दिया....अओर आधा लंड भाभी की चूत मैं समा गया...आबीयेयेयेयात्त्तहूवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवुयीईयेस्स्ज़ियीयियैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयैआइयीयैयुयुवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवूऊवम्मम्म्म्मेयीयेयीयियीयियायायात्त भाभी ने होठ भींच कर किशी तरह से बर्दास्त किया....अओर अगले धक्के को सहने के लिए अपने को तय्यार कर ही रही थी कि शास ने दूसरा अओर जोरदार धक्का लगा दिया...भाभी की चूत को खोलता हुवा शास का लंड भाभी की चूत मैं समा गया....पर भाभी की लाख कोशिशों का बाद भी चीख निकल गयी.......उउउउउउउईईईईईईईईईईआआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह.....मर गयी.....आआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउम्म्म्म्म्म्म्म्म्म्म जालिम आआआहह फाड़ ही दी.....आआआआहह बेरहम....आआअहह....पर चुदाई का महारथी शास.....अब इन सबका आदि हो चुक्का था....उसे तो मज़ा आने लगा था .....शास ने धक्को की बरसात कर दी भाभी चीखती रही....चिल्लाति रही...शास रुक जाओ....कुछ देर के लिए ....पर शास कहाँ रुकने वाला था...वो तो धक्के-पे-धक्का लगा लगा कर चूत की धज्जिया उड़ा रहा था....उसका लंड तो भूखे शेर की तरह लगा रहा...पूजा की चूत से भूखा ही जो निकल आया था.....अओर भाभी की छटपटाहट का अब उस पर कोई असर नही था...शास पूरी स्पीड से धक्को की बरसात करने मैं लगा था....अओर भाभी....आआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउउउउउउउउउउईईईईईईईईईईईईईआआआआआअईईईईईईईईसीईईईईईईईईईईईईईईईआआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह.....आआहह सस्स्शहाआअसस्सस्स द्द्द्ध्ह्ह्ह्हीईर्र्र्र्र्र्रीई आआआआअईईईईईईईईईईईईउउउउउउउउउउईएईईईइ आआहह मार गाआआय्य्यीई आआआहह.......कया बदला लिया तेरे इस लंड ने आआआआहह फाड़ ही डाली इस बार तो....आआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउउउउउईईईईईईईस्स्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईईईईईइ इन सबसे बेख़बर शास भाभी की चुचियाँ पीकर जमकर चुदाई मैं लगा रहा.................